लालू परिवार में सबसे बड़ा गृहयुद्ध…बीजेपी की राह चले तेजस्वी यादव !

Lalu Yadav with sons, लालू यादव, लालू परिवार

लालू यादव ने अपने बड़े बेटे को नजरअंदाज कर छोटे बेटे की ताजपोशी की है, सरकार के साथ-साथ संगठन में भी तेजस्वी की ज्यादा चलती है।

New Delhi, May 17 : बिहार के पूर्व सीएम लालू प्रसाद यादव के कई ठिकानों पर आयकर विभाग ने छापेमारी की है, सूत्रों का दावा है कि लालू यादव खुद को बचाने के लिये बीजेपी के कई केन्द्रीय मंत्रियों से फोन पर बात करते रहे, उन्होने इसके लिये कुछ बिजनेस मैन से भी कहा, जिनके बीजेपी से और लालू दोनों से संबंध अच्छे हैं। लेकिन लगता है कि केन्द्र सरकार के इस मंत्री लॉबी ने लालू यादव की सिफारिशों की परवाह नहीं की, आयकर विभाग के अधिकारी अपने काम में जुटे हैं और बेनामी संपत्ति के साथ-साथ दस्तावेजों को भी खंगाल रहे हैं।

इन सब से अलग एक ऐसी खबर आई है जिसे सुनने के बाद शायद आपके पैरो तले से भी जमीन खिसक जाए, दरअसल कहा जा रहा है कि लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव बीजेपी में शामिल होंगे, ये दावा हम नहीं बल्कि देश के एक लीडिंग न्यूज वेबसाइट का है, इस वेबसाइट ने सूत्रों के आधार पर बिहार बीजेपी के एक जिम्मेदार एमएलसी के हवाले से लिखा है कि Tej-Pratap, ,स्वास्थय मंत्री, लालूबीजेपी तेज प्रताप यादव के संपर्क में है, वो उन्हें अपनी पार्टी में लाना चाहते हैं, आपको बता दें कि लालू यादव ने अपने बड़े बेटे को नजरअंदाज कर छोटे बेटे की ताजपोशी की है, सरकार के साथ-साथ संगठन में भी तेजस्वी की ज्यादा चलती है, हालांकि कहने को तो तेज स्वास्थ्य मंत्री हैं, लेकिन वो अपने मंत्रालय के कामों से ज्यादा बांसुरी बजाने और कन्हैया बनने की वजह से सुर्खियों में रहते हैं।

राजद के सांसद और विधायक भी ये मांग करते हैं कि तेजस्वी को प्रदेश का सीएम बनाया जाए, कोई ये नहीं कहता कि बड़ा तेज प्रताप है, तो उसे अपनी क्षमता दिखाने का एक मौका दिया जाए। लालू के करीबी सूत्रों का भी कहना है कि राजद सुप्रीमो तेजस्वी को ही अपना उत्तराधिकारी मानते हैं, ऐसे में तेज प्रताप का नाराज होना तो जायज है। और अगर वो नाराजगी में परिवार से अलग होकर बीजेपी का रुख कर लेते हैं, तो किसी को हैरानी नहीं होनी चाहिये। Lalu-son, Bihar tej pratapअगर आज की तारीख में ये बातें आपको असंभव लगे, तो जरा साल 2014 को याद कीजिए, लोकसभा चुनाव से पहले लालू के साये की तरह उनके साथ रहने वाले और उनके नारों में अपनी आवाज बुलंद करने वाले रामकृपाल यादव के बारे में किसी ने सोचा था कि वो लालू का साथ छोड़ बीजेपी में चले जाएंगे, रामकृपाल यादव को जमीनी नेता माना जाता है, पाटलिपुत्र ही नहीं बल्कि इस क्षेत्र के आस-पास के इलाकों में भी इनकी अच्छी पकड़ मानी जाती है। जब वो लालू का साथ छोड़ मंत्री बन सकते हैं, तो कुछ भी हो सकता है।

तेज प्रताप यादव लालू परिवार की कमजोर कड़ी माने जाते हैं, वो खुद को नजरअंदाज किये जाने पर भले अभी कुछ ना बोल रहे हों, क्योंकि लालू अभी अपने दोनों बेटों के हर मूवमेंट पर नजर रखते हैं। इतना ही नहीं उन्होने अपने दोनों बेटों के साथ उन अधिकारियों की फौज लगाई है, जो कभी प्रदेश को चलाने में लालू यादव की मदद किया करते थे। tej-pratap सुशील मोदीहालांकि इस खबर में कितनी सच्चाई है, ये दावा तो हम नहीं कर सकते, लेकिन हां इतनी बात तो जरुर है, कि बिना आग के धुंआ नहीं होता, अगर धुंआ दिख रहा है, यानी आग लगी है। ये बात तो जगजाहिर है कि लालू यादव तेजस्वी को ज्यादा तरजीह देते हैं, और तेज प्रताप का मंत्रालय भी खुद ही संभालते हैं।

Read Also : बिहार : खौफनाक चेहरे के साथ जीने को विवश है ये लड़का… गांव वाले मानते हैं भुतहा !

Click To Comment
Daily Horoscope
WhatsApp पर Ban की तलवार !

WhatsApp पर Ban की तलवार !

WhatsApp पर Group बनाना भी नहीं होगा आसान, सरकार से लेना होगा लाइसेंस ! New Delhi, April 21 : WhatsApp यूजर्स के लिए दो खबर है, और ये दोनो ही खबर यूजर्स के लिहाज से देंखे तो बुरी है. पहली खबर ये है कि वाट्सअप पर Ban लग सकता है. दरअसल WhatsApp ने हाल ही में नया अपडेट किया है. इससे वाट्सअप पर किए जाने वाले मैसेज और Call इनक्रिप्टेड हो गए हैं. इसका मतलब ये है कि इसे कोई और पढ़ नहीं सकेगा.…
काली गर्दन कुछ ही सेकंड्स में हो जाएगी गोरी, कीजिये ये उपाए   

काली गर्दन कुछ ही सेकंड्स में हो जाएगी गोरी, कीजिये ये उपाए   

आज हम आपको बेहद सरल उपाय बताएंगे जिसकी मदद से आप अपनी काली गर्दन को साफ कर सकती हैं. ये सामग्रियां आपको आसानी से घर पर ही उपलब्ध हो जाएंगी. New Delhi, Oct 8 : अगर काली गर्दन हो तो चेहरे की सुंदरता भी फीकी पड़ने लगती है. कई लोग रोज नहाते वक्त अपनी गर्दन को रगड़ रगड़ कर साफ करते हैं लेकिन रिजल्ट नहीं मिलता और गर्दन लाल हो जाती है सो अलग. आज हम आपको बेहद सरल उपाय बताएंगे…
J K Sethi

J K Sethi

J K Sethi | J K Sethi Ji is as an Indian Vedic Astrologer and learnt astrology from India's renowned institutions & worldwide famous Astrologer and conferred the title of "Jyotish Shiromani", "Jyotish Visharad" & "Jyotish Kovid" from various institutions of India, practicing Systems Approach to Vedic Astrology (Hindu system of Astrology) since last decade. Life member of Indian Council of Astrological Sciences (ICAS), Madras, Member of International Institute of Predictive Astrology (IIPA), Satva, Systems Institute of Hindu Astrology. He has been participating in many consultation clinics…