फिर नंबर वन बनेगा हिंदुस्तान, वर्ल्ड बैंक ने पेश किए नए आंकड़े !

PIC- HINDUSTAN

हिंदुस्तान एक और मामले में नंबर वन बनने की कगार पर है। या यूं कहें कि एक बार फिर से देश नंबर वन बनेगा। वर्ल्ड बैंक ने ये भविष्यवाणी की है।

New Delhi, Oct 05 : हिंदुस्तान एक और मामले में नंबर वन बनने जा रहा है। हाल ही में वर्ल्ड- बैंक द्वारा ये बड़ी भविष्यवाणी की गई है। दरअसल देश से बाहर रहने वाले नागरिकों द्वारा भारत में पैसा भेजने के मामले में भारत एक बार फिर अपनी नंबर वन बन सकता है। इससे पहले भी भारत इस मामले में नंबर वन रहा है।वर्ल्ड बैंक द्वारा एक रिपोर्ट पेश की गई है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि 2017 में देश से बाहर रह रहे भारतीय समुदाय ने 65 अरब डॉलर भारत में भेजे हैं। बुधवार को विश्व बैंक ने इस बारे में जानकारी दी है। आईएमएफ और वर्ल्ड बैंक की हाल ही में एक बैठक हुई थी। इस सालाना से इतर वर्ल्ड बैंक ने ये रिपोर्ट जारी की।

इसके साथ ही वर्ल्ड बैंक द्वारा कहा गया है कि विदेशों से भारतीय लोग अपने देश में पैसा भेजद रहे हैं और ये  3.9 फीसदी बढ़ गया है। बताया जा रहा है कि ये अब करीब 39 लाख करोड़ रुपये हो सकता है। भारत के बाद विदेश से सबसे ज्यादा धन प्राप्त करने वाले मुल्कों में चीन का नंबर है। चीन के नागरिकों ने 3.99 लाख करोड़ रुपये अपने मुल्क में भेजे हैं। इसके बाद नंबर आता है फिलीपिंस का। फिलीपींस के लोगों ने करीब 2.16 लाख करोड़ रुपये रुपये विदेश से अपने देश में भेजा हैं। इसके बाद मेक्सिकों का नंबर है। मेक्सिको के लोगों ने करीब 2.3 लाख करोड़ रुपये विदेश से अपने मुल्क में भेजे हैं।

इसके बाद नाइजीरिया का नंबर है, जहां के लोगो ने विदेश से करीब 1.44 लाख करोड़ रुपये रुपये अपने देश में भेजे हैं। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत को साल 2017 में 4.2 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ 65 अरब डॉलर धन विदेशों से प्राप्त होगा। इससे पहले साल 2016 में विदेशों से आए पैसे के मामले में 9 प्रतिशत की कमी आई थी। साल 2016 में विदेशों से भारत को 62.7 अरब डॉलर मिले थे। वर्ल्ड बैंक की रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान की धन प्राप्ति में कोई खास बदलाव नहीं देखने को मिल रहा। हालांकि श्री लंका, बांग्लादेश और नेपाल को इस साल विदेश के लोगों से कम रकम मिलेगी।

वर्ल्ड बैंक का कहना है कि साल 2018 तक भारत का ये प्रतिशत बढ़ जाएगा। उम्मीद है कि साल 2018 में भारत को 2.5 फीसदी ज्यादा रकम मिलेगी। वर्ल्ड बैंक ने इसके साथ ही अपनी रिपोर्ट में कहा कि 2018 में दक्षिण एशियाई देशों को दूसरे देशों से भेजा 2.6 प्रतिशत ज्यादा धन भेजा जाएगा। बैंक का कहना है कि कि खाड़ी देशों में आर्थिक मंदी चल रही है। इस वजह से दक्षिण एशिया से खाड़ी देशों में काम के लिए जानेवाले लोगों की तादाद घटी है। सऊदी अरब जानेवाले भारतीय वर्करों की संख्या साल 2015 में 306,000 थी। 2016 में ये तादाद घटकर 162,000 हो गई है। इसके अलावा हिंदुस्तान से संयुक्त अरब अमीरात जानेवाले भारतीयों की संख्या भी घटी है। 2016 में ये संख्या घटकर 159,000 रह गई।

आगे पढ़ें :बाबा रामदेव का नया दांव, बिजनेस सुपरहिट होने के बाद किया एक और ऐलान

Click To Comment
Daily Horoscope
आईफोन-8 आने से पहले हो गया बड़ा खुलासा … इस जलवे से दुनिया हिलाएगा ऐप्पल !

आईफोन-8 आने से पहले हो गया बड़ा खुलासा … इस जलवे से दुनिया हिलाएगा ऐप्पल !

आईफोन-8 के बाजार में आने से पहले ही कई तरह की बातें हो रही हैं। लेकिन एक बड़े खुलासे को लेकर ये फोन आजकल काफी चर्चाओं में है। New Delhi, Dec 21 : एप्पल के आईफोन को लेकर दुनियाभर में अलग ही तरह का क्रेज है। इससे पहले हमने आपको बताया था कि किस तरह से आईफोन-7 और आईफोन -7 प्लस को लेकर दीवानगी देखी गई थी। आलम ये था कि लोग मोबाइल स्टोर्स के बाहर 3 दिन तक डेरा…
Vaccine to prevent cervical cancer found promising

Vaccine to prevent cervical cancer found promising

New York, Nov 18 : A genetically engineered vaccine has been found effective in removing high-grade pre-cancerous cervical lesions in nearly one-half of women who received the vaccine in a clinical trial. "A vaccine able to cure pre-cancerous lesions could eventually be one way women can avoid surgery that is invasive and can also harm their fertility," said study first author Cornelia Trimble, professor at Johns Hopkins University School of Medicine in Baltimore, US. Currently,tissue abnormalities that can develop into cancer…
Pandit Parsai

Pandit Parsai

Pandit Parsai | Astrology Expert Pandit Parsai is an expert on subjects of human life including relationships, love-life, marriage, progeny, choice of education and career, luck in politics, troubles and rise in profession, problems of health, finance, real-estate, success in business, industry, profession or self-employment, litigation loss/gain of money and much more. He has gained over the years wide reputation in India, USA, Canada, United Kingdom, Europe and Australia, for his correct calculations for birth chart and other astrological charts and…