राम मंदिर निर्माण : मुसलमान बोले – राम लला हम आएंगे, मंदिर वहीं बनाएंगे !

Ram mandir, राम मंदिर

उत्‍तर प्रदेश की तस्‍वीर लगातार बदलती हुई नजर आ रही है। अयोध्‍या में राम मंदिर निर्माण के लिए अब मुस्लिम कारसेवक मंच भी सामने आ गया है।

New Delhi Apr 21 : अयोध्‍या में राम मंदिर निर्माण के लिए अब अनोखी पहल देखने को मिली है। राम मंदिर निर्माण के लिए मुस्लिम कारसेवक मंच भी सामने आ गया है। इस मंच का पूरा नाम “श्री राम मंदिर निर्माण मुस्लिम कारसेवक मंच” है। मंच के कार्यकर्ता मंदिर निर्माण के लिए ईटों से भरा एक ट्रक लेकर यहां पहुंचे। इतना ही नहीं मुस्लिम कारसेवकों ने अयोध्‍या के लोगों से मुलाकात भी की और उनके साथ जय श्री राम के नारे भी लगाए। लोगों ने बताया कि मुस्लिम कारसेवक मंच के कार्यकर्ताओं ने यहां पर ये भी नारे लगाए कि राम लला हम आएंगे, मंदिर वहीं बनाएंगे। मुस्लिम कारसेवक मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष आज़म खान का कहना है कि अयोध्‍या में राम मंदिर निर्माण मुस्लिम समाज का मकसद है।

उन्‍होंने ये भी कहा कि अब राम लला ज्‍यादा दिनों तक टेंट में नहीं रहेंगे। आजम खान का कहना है कि यहां पर मंदिर निर्माण से ना सिर्फ देश की तरक्‍की होगी बल्कि हिंदू और मुसलमानों के बीच फैली नफरत की खाईं कम होगी। मंदिर निर्माण के लिए ट्रक भरकर ईंट के साथ यहां पर करीब पचास मुस्लिम कारसेवक पहुंचे हुए थे। इस कार सेवा में शामिल मुस्लिम समुदाय के लोग उत्‍तर प्रदेश के अलग-अलग हिस्‍से से आए थे। गोरखपुर, बस्‍ती और लखनऊ से मुस्लिम कार सेवक मंदिर निर्माण के लिए अयोध्‍या पहुंचे। मुस्लिम कार सेवकों ने कहा कि हम अपने पूरे समाज की ओर से प्रतिज्ञा देते हैं कि भगवान राम में मुसलमानों की आस्‍था है। उनका कहना था कि हम पूरे समाज के लोगों से मंदिर निर्माण में एकजुट होने का आह्वाहन करेंगे।

मुस्लिम कारसेवक मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष आज़म खान का कहना है कि मुस्लिम समाज अब इस मसले पर जाग चुका है। वक्‍त आ गया है कि हिंदू और मुसलमानों के बीच नफरत की खाईं को भर दिया जाए। उन्‍होंने कहा कि हम सभी लोगों का ये संकल्‍प है कि अयोध्‍या में राममंदिर का भव्‍य निर्माण हो। ताकि रामलला इस टेंट से  बाहर निकलकर भव्‍य मंदिर में विराजमान हो सकें। हालांकि पुलिस को इस बात की खबर नहीं थी कि मुस्लिम कारसेवक मंच के कार्यकर्ता ईंटों से भरा ट्रक लेकर यहां पर पहुंच रहे हैं। जैसे ही पुलिस को इस बात की भनक लगी फौरन ही फोर्स वहां पर पहुंच गई और सभी को शांतिपूर्वक ढंग से ये समझाया गया कि ये मामला अभी कोर्ट में लंबित है ऐसे में यहां पर कुछ भी नहीं किया जा सकता है।

मुस्लिम कारसेवक मंच के लोगों का भी मकसद यहां पर किसी भी तरह से अव्‍यवस्‍था पैदा करना नहीं था। इसलिए वो भी यहां से बाद में चले गए। मुस्लिम कारसेवक मंच के इस कदम की सोशल मीडिया पर काफी तारीफ हो रही है। लेकिन, वहीं दूसरी ओर ये भी कहा जा रहा है इस मामले को लेकर राजनीति गरमा सकती है। दरअसल, कई मुस्लिम कट्टरपंथी मुस्लिम कारसेवक मंच का विरोध कर सकते हैं। इससे पहले भी जब इस संगठन के लोगों ने लखनऊ में पोस्‍टर चस्‍पा किए थे तब भी काफी राजनीति गरमाई थी। दरसअल, राम मंदिर निर्माण का पूरा मामला इस वक्‍त सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है। अदालत ये कह चुका है कि अगर दोनों पक्ष सहमत हैं तो इस मामले में आउट आफ कोर्ट सेटेलमेंट कर सकते हैं ।

आगे पढि़ए – राम मंदिर पर गिरिराज सिंह ने दिया बड़ा बयान, पचा नहीं पाएंगे ओवैसी और आजम खान !

Click To Comment
Daily Horoscope
ऐसे लॉक करें अपना आधार कार्ड, गलत इस्तेमाल होने से बचाएं !

ऐसे लॉक करें अपना आधार कार्ड, गलत इस्तेमाल होने से बचाएं !

आधार कार्ड की अहमियत लगातार बढ़ती जा रही है। ऐसे में हर किसी के लिए इसकी सुरक्षा काफी जरूरी हो गई है। इस तकनीकि से आप अपने आधार को लॉक करें। New Delhi, Aug 04 : आधार कार्ड आज हर किसी के लिए काफी जरूरी हो गया है। इस बीच सबसे बड़ा सवाल ये है कि ऑनलाइन क्राइम के इस दौर में अपने आधार को किस तरह से सुरक्षित किया जाए। इसलिए हम आपके सामने कुछ टिप्स लेकर आए हैं,…
सीने में जलन का ये है रामबाण उपाय, बिना गोली बिना दवा के चुटकियों में छूमंतर …

सीने में जलन का ये है रामबाण उपाय, बिना गोली बिना दवा के चुटकियों में छूमंतर …

सीने में जलन की परेशानी से कई लोग जूझते हैं, लेकिन शायद आप नहीं जानते गोली या जो गुलाबी दवा हम खा रहे हैं वो हमें ठीक नहीं कर रही बल्कि इसका आदी बना रही है । New Delhi, May 19 : क्‍या आपको अकसर सीने में जलन की समस्‍या होती है, खासकर तब जब आप रात में बहुत हैवी खाना खा लेते हैं या फिर दोपहर का खाना, या फिर शाम की वो चाय । ज्‍यादातर लोग एसिडीटी की…
Steven Menezes

Steven Menezes

Steven Menezes | Astrology Expert Steven Menezes is a consulting Vedic astrologer with interceding subspecialty of Prashna Jyotish - engages “Arooda rasi” – a ‘fixed zodiac sign’ for the specific query identified within the moving zodiac as a prime reference point. This ancient procedure aids in finding causes and derive solutions for serious life threatening problems, especially to a person who is on his path of miseries and to those who seek divine intervention for the guidance. He has over 30…