“पप्‍पू को मिली एक दिन में दूसरी बड़ी डोज”, सुप्रीम कोर्ट ने ठुकराई मोदी के खिलाफ याचिका

modi-rahul, मोदी

सहारा डायरी मामले में मोदी के खिलाफ जांच की मांग वाली याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने ठुकरा दिया है। राहुल गांधी ने इसी को आधार बना आरोप लगाए थे।

New Delhi Jan 11 : बुधवार का दिन सोशल मीडिया में कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी के लिए बहुत अच्‍छा नहीं रहा। पहले उन्‍होंने जन वेदना सम्‍मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर वार किया तो सोशल मीडिया पर उनका जमकर मजाक उडाया गया। इसके बाद सहारा डायरी मामले में मोदी के खिलाफ जांच की मांग वाली याचिका ठुकराए जाने के बाद एक बार फिर राहुल गांधी के खिलाफ ट्रॉलिंग शुरु हो गई। सुप्रीम कोर्ट का फैसला आते ही सोशल मीडिया पर लोगों ने लिखना शुरु कर दिया कि पप्‍पू को एक ही दिन में दूसरी बड़ी डोज मिल गई है। वहीं कुछ लोगों ने लिखा कि इतने सदमे वो एक साथ सह नहीं पाएंगे। हमले जरा आहिस्‍ते-आहिस्‍ते करिए। दरसअसल, सहारा डायरी को ही आधार बनाकर राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर व्‍यक्तिगत भ्रष्‍टाचार के आरोप लगाए थे।

Advertisement

दरसअल, वरिष्‍ठ वकील प्रशांत भूषण ने कथित तौर पर इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट में जब्‍त डायरी की जांच कराने के लिए सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की थी। जिस पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जांच की मांग करने वाली इस याचिका को ठुकरा दिया है। प्रशांत भूषण ने अपनी इस याचिका के समर्थन में कुछ दस्‍तावेज भी कोर्ट समक्ष पेश किए थे। सुप्रीम कोर्ट ने प्रशांत भूषण की ओर से दिए गए दस्‍तावेजों को देखा और कहा कि इन दस्‍तावेजों के आधार पर जांच के आदेश नहीं दिया जा सकता है। सुप्रीम कोर्ट का साफ तौर पर कहना था कि अमान्‍य सामग्रियों के आधार पर इस तरह की जांच का आदेश नहीं दिया जा सकता और ना ही राजनैतिक फायदे के लिए कानूनी प्रक्रिया का दुरुपयोग किया जा सकता है।

Advertisement

सुप्रीम कोर्ट का कहन था कि अगर ठोस सामग्री के बिना ही देश के उच्‍च संवैधानिक पदों पर बैठे लोगों के खिलाफ यूं ही जांच बिठा दी गई तो लोकतंत्र अपना काम ही नहीं कर पाएगा। दरसअल, ये दावा किया जा रहा था कि इनकम टैक्‍स की छापेमारी में सहारा के आफिस से एक आयकर विभाग के अफसरों को एक डायरी मिली थी। जिसमें कथित तौर पर ये लिखा हुआ था कि साल 2003 में गुजरात के मुख्‍यमंत्री को 25 करोड़ रुपए दिए गए थे। इसके अलावा कुछ और मुख्‍यमंत्रियों को भी दिए गए पैसों का हिसाब-किताब  इसमें दर्ज था। जिसमें दिल्‍ली की तत्‍कालीन मुख्‍यमंत्री शीला दीक्षित का नाम भी शामिल था। इस डायरी में पैसा दिए जाने की तारीख भी दर्ज थी। साल 2003 में नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्‍यमंत्री हुआ करते थे।

इन्‍हीं दस्‍तावेजों के आधार पर पहले कांग्रेस के उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी ने कहा था कि उनके पास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ व्‍यक्तिगत भ्रष्‍टाचार के सबूत हैं। ये बात उन्‍होंने तब कही थी जिस वक्‍त नोटबंदी को लेकर संसद के शीतकालीन सत्र में विपक्ष का हंगामा चल रहा था। उस वक्‍त राहुल गांधी ने कहा था उन्‍हें मोदी और बीजेपी संसद में बोलने नहीं दे रही है अगर वो संसद में बोलेंगे तो भूकंप आ जाएगा। इसके बाद उन्‍होंने इन्‍हीं दस्‍तावेजों के आधार पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर घूस लेने का आरोप लगा दिया था। हालांकि बाद में शीला दीक्षित ने ही इन दस्‍तावेजों की प्रमाणिकता पर सवाल खड़े करते हुए राहुल गांधी को ही कठघरे में खड़ा कर दिया था। अब सुप्रीम कोर्ट से भी इस मसले में सबको मुंह की खानी पड़ी है।

आगे पढि़ए – विदेश में है राहुल गांधी की सीक्रेट फैमिली ? 

Click To Comment
Advertisement

Daily Horoscope
रिलायंस जियो को भूल जाइए…ये कंपनी 200 रुपये में देगी साल भर का डाटा फ्री !

रिलायंस जियो को भूल जाइए…ये कंपनी 200 रुपये में देगी साल भर का डाटा फ्री !

अगर आप सोच रहे हैं कि सबसे ज्यादा डाटा देने के मामले में रिलायंस जियो सबसे आगे है, तो आप गलत साबित हो सकते हैं। ये खबर पढ़ना आपके लिए जरूरी है। New Delhi, Mar 30 : आज के दौर में टेलिकॉम कंपनियों के बीच डाटा को लेकर जंग छिड़ी है। इस जंग में कौन सी कंपनी जीत हासिल करेगी, ये कहना अभी मुश्किल है। लेकिन इतना जरूर है कि आगे आने वाला वक्त बहुत ही दिलचस्प साबित होने वाला…
इन गर्मियों में पसीने की बदबू को कहिए बाय-बाय …

इन गर्मियों में पसीने की बदबू को कहिए बाय-बाय …

सर्दियां फुर्र हुईं और अब गर्मी पूरे शबाब पर आने की तैयारी में है । इस गर्मी आप पसीने से कैसे खुद को बचाएंगे आइए आपके लिए हम कुछ अच्‍छी-अच्‍छी टिप्‍स लेकर आए हैं ... New Delhi, Mar 30 : क्‍या आप भी उन लोगों में से हैं जिनसे पसीने की दुर्गंध आती है, क्‍या आप भी वो हैं जिनके पास में बैठने से लोग कतराते हैं, क्‍या आप खुद भी अपने पसीने की दुर्गंध से परेशान रहते हैं ।…
Alankrita Manvi

Alankrita Manvi

अलंकृता मानवी टैरो कार्ड रीडर अलंकृता मानवी वैसे तो किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं। लेकिन, फिर भी अगर आप इन्‍हें नहीं जानते हैं तो हम आपका इसने परिचय करा देते हैं। अलंकृता मानवी अद्भुत प्रतिभा की धनी हैं। इनकी सारी सुंदरता और उनके गुण इनके नाम में ही समाए हुए हैं। टैरो कार्ड के जरिए सटीक भविष्‍यवाणी करने वाली अलंकृता बॉलीवुड से लेकर राजनैतिक गलियारों में भी काफी प्रसिद्धी हासिल कर चुकी हैं। अलंकृता ने आज तक जितने भी…