लड़ें, अब नोटबंदी के इस भस्मासुर से!- Ved Pratap Vaidik

Ved Pratap vaidik, France, Pakistan, Mohan Bhagwat, Budget, Uttarakhand, Congress, आनंदीबेन, मोदी, कश्मीर, पाकिस्तान, राहुल गांधी, मायावती, अखिलेश, शादी भगवान, शिक्षा, वंदे मातरम, हिंदी

नवंबर-दिसंबर 2016 में नोटबंदी के कारण कितने लोग बेरोजगार हो गए हैं, कितना व्यापार बैठ गया है और सरकारी खर्च कितना ज्यादा बढ़ गया है।

New Delhi, Jan 11 : एक तरफ नरेंद्र मोदी नोटबंदी का विरोध करने वालों को काला धन-पुजारी घोषित कर रहे हैं, दूसरी तरफ नोटबंदी की काली करतूतें रोज उजागर होती जा रही हैं। सरकार को आशा थी कि कम से कम तीन लाख करोड़ रु. का लाभ उसको होगा, क्योंकि लोग कम से कम इतने काले धने के नोटों को तो जला ही देंगे लेकिन ताजा अनुमान यह है कि अब सिर्फ 75 हजार करोड़ के पुराने नोट ही लोगों के पास हैं। ये भी 31 मार्च तक जमा हो सकते हैं, क्योंकि इतना पैसा तो हमारे डेढ़ करोड़ प्रवासी भारतीयों के पास ही हो सकता है। इसके अलावा नेपाल, मोरिशस, अफगानिस्तान तथा अन्य पड़ौसी देशों में भी भारतीय मुद्रा चलती है। वह भी वापस आएगी।

Advertisement

Read Also : Live Video : लंदन से लौटने के बाद मोदी को लेकर फ्रस्टेशन में नजर आए राहुल गांधी !

अर्थात सरकार नोटबंदी से जो फायदा सेंत-मेंत में उठाना चाहती थी, उसका वह सपना चूर-चूर हो गया है। अब वह अपनी सारी ताकत बैंकों के चोर-खातों को पकड़ने में लगाएगी। देखें, उसमें से कितना पैसा उसके हाथ लगता है। लेकिन ज्यादा चिंता की बात ताजा आंकड़े हैं, जो कह रहे हैं कि नवंबर-दिसंबर 2016 में नोटबंदी के कारण कितने लोग बेरोजगार हो गए हैं, कितना व्यापार बैठ गया है और सरकारी खर्च कितना ज्यादा बढ़ गया है।
देश का सकल उत्पाद (जीडीपी) तो 0.5 प्रतिशत घट ही गया है, उसके अलावा देश के लघु-उद्योगों में 35 प्रतिशत मजूदरों का रोजगार खत्म हो गया है और इन उद्योगों की आमदनी 50 प्रतिशत घट गई है। इसका एक बुरा परिणाम यह भी हुआ है कि मजदूर लोग भाग-भागकर अपने गांवों में शरण ले रहे हैं। वे वहां जाकर महात्मा गांधी ग्रामीण रोजगार योजना के तहत लंबी-लंबी लाइनें लगा रहे हैं।

Advertisement

Read Also : पीएम मोदी को वर्ल्ड बैंक ने दिया बड़ा धोखा… बड़े मिशन पर खड़े कर दिए सवाल…

नवंबर 2016 में इन ग्रामीण मजदूरों की संख्या प्रतिदिन 30 लाख होती थी। अब जनवरी 2017 में वह बढ़कर 83 लाख हो गई है। हर मजदूर को सरकार एक दिन के 272 रु. देती है। 500 Note, नोट, नोटबंदीअब जरा अंदाज लगाइए कि सरकार को अरबों रु. महिने की चपत लग रही है या नहीं? इसके लिए कौन जिम्मेदार है? नोटबंदी !

Read Also : जो 2014 में मोदी ने किया, उसी को अखिलेश दुहरा रहे हैं- Prabhat Dabral

नोटबंदी के हवाई फायदे गिना कर आम लोगों को भरमाने की बजाय बेहतर होगा कि मोदी विनम्रतापूर्वक अपनी गलती स्वीकार करें और लोगों से माफी मांगें। सरकार की पूरी ताकत इस समय नोटबंदी के भस्मासुर से लड़ने में लगनी चाहिए। noteजनता सरकार का साथ देगी, क्योंकि उसे विश्वास है कि सरकार ने यह नोटबंदी अच्छे इरादे से की थी लेकिन कई कारणों से यह विफल हो गई। लोगों ने नोटों को नहीं, नोटबंदी को रद्द कर दिया।

(वरिष्ठ पत्रकार एवं स्तंभकार डॉ. वेद प्रताप वैदिक के ब्लॉग से साभार, ये लेखक के निजी विचार हैं)

Read Also : दिल्ली में नर्सरी एडमिशन का दौर शुरू, आपने फॉर्म भरा ?

Click To Comment
Advertisement

Daily Horoscope
रिलायंस जियो का खेल खत्म…एयरटेल लाया है सबसे बवाली प्लान !

रिलायंस जियो का खेल खत्म…एयरटेल लाया है सबसे बवाली प्लान !

रिलायंस जियो को खेल खत्म करने के लिए एयरटेल ने शानदार प्लान लॉन्च कर डाला है। बताया जा रहा है कि एयरटेल का ये अब तक का सबसे बंपर ऑफर है। New Delhi, May 27 : रिलायंस जियो का नाम सभी भारतीयों से सिर चढ़कर बोल रहा है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि फिलहाल जियो के प्लान के आगे हर कंपनी फेल है। लेकिन अब एयरटेल ने ऐसा प्लान लॉन्च किया है, जिससे जियो धुंआ हो जाएगा। एयरटेल ने अपने…
इन 3 Lifestyle Disease से बचके, ये आपको जवानी में ही मार सकती हैं !

इन 3 Lifestyle Disease से बचके, ये आपको जवानी में ही मार सकती हैं !

आधुनिक जीवनशैली हमारी सेहत के लिए किसी बड़े नुकसान से कम नहीं है । ये जीवनशैली हमें जानलेवा बीमारियां दे रही हैं । जानिए ऐसी ही 3 Lifestyle Disease के बारे में । New Delhi, May 27 : आज घर में मौजूद हर शख्‍स किसी ना किसी काम में व्‍यस्‍त है, महिलाएं और पुरुष अपनी लाइफस्‍टाइल मेंटेन करने, बड़े शहरों में रहने की जरूरतों, बच्‍चों का भविष्‍य संवारने के लिए काम में लगे हैं । ऐसे में वक्‍त ही नहीं…
Alankrita Manvi

Alankrita Manvi

अलंकृता मानवी टैरो कार्ड रीडर अलंकृता मानवी वैसे तो किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं। लेकिन, फिर भी अगर आप इन्‍हें नहीं जानते हैं तो हम आपका इसने परिचय करा देते हैं। अलंकृता मानवी अद्भुत प्रतिभा की धनी हैं। इनकी सारी सुंदरता और उनके गुण इनके नाम में ही समाए हुए हैं। टैरो कार्ड के जरिए सटीक भविष्‍यवाणी करने वाली अलंकृता बॉलीवुड से लेकर राजनैतिक गलियारों में भी काफी प्रसिद्धी हासिल कर चुकी हैं। अलंकृता ने आज तक जितने भी…
Please enable JavaScript!