लड़ें, अब नोटबंदी के इस भस्मासुर से!- Ved Pratap Vaidik

Ved Pratap vaidik, France, Pakistan, Mohan Bhagwat, Budget, Uttarakhand, Congress, आनंदीबेन, मोदी, कश्मीर, पाकिस्तान, राहुल गांधी, मायावती, अखिलेश, शादी

नवंबर-दिसंबर 2016 में नोटबंदी के कारण कितने लोग बेरोजगार हो गए हैं, कितना व्यापार बैठ गया है और सरकारी खर्च कितना ज्यादा बढ़ गया है।

New Delhi, Jan 11 : एक तरफ नरेंद्र मोदी नोटबंदी का विरोध करने वालों को काला धन-पुजारी घोषित कर रहे हैं, दूसरी तरफ नोटबंदी की काली करतूतें रोज उजागर होती जा रही हैं। सरकार को आशा थी कि कम से कम तीन लाख करोड़ रु. का लाभ उसको होगा, क्योंकि लोग कम से कम इतने काले धने के नोटों को तो जला ही देंगे लेकिन ताजा अनुमान यह है कि अब सिर्फ 75 हजार करोड़ के पुराने नोट ही लोगों के पास हैं। ये भी 31 मार्च तक जमा हो सकते हैं, क्योंकि इतना पैसा तो हमारे डेढ़ करोड़ प्रवासी भारतीयों के पास ही हो सकता है। इसके अलावा नेपाल, मोरिशस, अफगानिस्तान तथा अन्य पड़ौसी देशों में भी भारतीय मुद्रा चलती है। वह भी वापस आएगी।

Read Also : Live Video : लंदन से लौटने के बाद मोदी को लेकर फ्रस्टेशन में नजर आए राहुल गांधी !

अर्थात सरकार नोटबंदी से जो फायदा सेंत-मेंत में उठाना चाहती थी, उसका वह सपना चूर-चूर हो गया है। अब वह अपनी सारी ताकत बैंकों के चोर-खातों को पकड़ने में लगाएगी। देखें, उसमें से कितना पैसा उसके हाथ लगता है। लेकिन ज्यादा चिंता की बात ताजा आंकड़े हैं, जो कह रहे हैं कि नवंबर-दिसंबर 2016 में नोटबंदी के कारण कितने लोग बेरोजगार हो गए हैं, कितना व्यापार बैठ गया है और सरकारी खर्च कितना ज्यादा बढ़ गया है।
देश का सकल उत्पाद (जीडीपी) तो 0.5 प्रतिशत घट ही गया है, उसके अलावा देश के लघु-उद्योगों में 35 प्रतिशत मजूदरों का रोजगार खत्म हो गया है और इन उद्योगों की आमदनी 50 प्रतिशत घट गई है। इसका एक बुरा परिणाम यह भी हुआ है कि मजदूर लोग भाग-भागकर अपने गांवों में शरण ले रहे हैं। वे वहां जाकर महात्मा गांधी ग्रामीण रोजगार योजना के तहत लंबी-लंबी लाइनें लगा रहे हैं।

Advertisement

Read Also : पीएम मोदी को वर्ल्ड बैंक ने दिया बड़ा धोखा… बड़े मिशन पर खड़े कर दिए सवाल…

नवंबर 2016 में इन ग्रामीण मजदूरों की संख्या प्रतिदिन 30 लाख होती थी। अब जनवरी 2017 में वह बढ़कर 83 लाख हो गई है। हर मजदूर को सरकार एक दिन के 272 रु. देती है। 500 Note, नोट, नोटबंदीअब जरा अंदाज लगाइए कि सरकार को अरबों रु. महिने की चपत लग रही है या नहीं? इसके लिए कौन जिम्मेदार है? नोटबंदी !

Read Also : जो 2014 में मोदी ने किया, उसी को अखिलेश दुहरा रहे हैं- Prabhat Dabral

नोटबंदी के हवाई फायदे गिना कर आम लोगों को भरमाने की बजाय बेहतर होगा कि मोदी विनम्रतापूर्वक अपनी गलती स्वीकार करें और लोगों से माफी मांगें। सरकार की पूरी ताकत इस समय नोटबंदी के भस्मासुर से लड़ने में लगनी चाहिए। noteजनता सरकार का साथ देगी, क्योंकि उसे विश्वास है कि सरकार ने यह नोटबंदी अच्छे इरादे से की थी लेकिन कई कारणों से यह विफल हो गई। लोगों ने नोटों को नहीं, नोटबंदी को रद्द कर दिया।

(वरिष्ठ पत्रकार एवं स्तंभकार डॉ. वेद प्रताप वैदिक के ब्लॉग से साभार, ये लेखक के निजी विचार हैं)

Read Also : दिल्ली में नर्सरी एडमिशन का दौर शुरू, आपने फॉर्म भरा ?

Click To Comment
Advertisement

Daily Horoscope
एयरटेल का प्लान मचा देगा बवाल…एक वार से रिलायंस जियो समेत सब खल्लास !

एयरटेल का प्लान मचा देगा बवाल…एक वार से रिलायंस जियो समेत सब खल्लास !

रिलायंस जियो का चारों खाने चित करने के लिए एयरटेल ने एक और बड़ा प्लान तैयार किया है। इसके साथ ही टेलिकॉम सेक्टर में हंगामा मच गया है। New Delhi, Feb 26 : रिलायंस जियो जबसे भारत में लॉन्च हुआ है तबसे ये कंपनी बाकी टेलिकॉम कंपनियों के लिए बड़ी मुश्किल बन गई है। रिलायंस जियो ने आते ही धमाल मचा दिया था। अपनी फ्री कॉलिंग और फ्री डेटा सर्विस की वजह से इस कंपनी ने पहले एक महीने में ही…
अच्‍छी सेहत का करें स्‍वागत … इन बुरी आदतों को कहकर BYE …

अच्‍छी सेहत का करें स्‍वागत … इन बुरी आदतों को कहकर BYE …

जीवन में कई ऐसी बातें होती हैं जिसके फायदे नुकसान जाने बिना हम उन्‍हें अपनी आदत बना लेते हैं । ऐसी ही कुछ आदतों को आपको अच्‍छी सेहत के लिए छोड़ना होगा । New Delhi, Feb 26: सेहत के लिए सुझाव देना सभी जानते हैं लेकिन क्‍या वाकई में हम अपनी सेहत पर काम कर पाते हैं । जीवन में हम जितना विकास पाते गए उतना ही हमारी जीवन शैली भी बदलती गई । इस लाइफस्‍टाइल में कई चीजें ऐसी…
Dr. Shakti Dhar Sharma

Dr. Shakti Dhar Sharma

Dr. Shakti Dhar Sharma | Dr. Shakti Dhar Sharma is running Shakti Jyotish Kendra at Haridwar(Uttarakhand) in INDIA.  Dr. Shakti Dhar Sharma have a excellence knowledge of Vedic Astrology as a hobby since childhood. He pursued Jyotish studies from Banaras (Kashi). He was also awarded as a Jyotish Samrat, Jyotish Ratna & Jyotish Bhaskar. He has 30 yrs experience in the field of Astrology, Occult science, Tantra, Mantra, Yantra etc.  He has made thousands of successful predictions to let people understand…