मंत्रियों के बाद अब योगी आदित्‍यनाथ ने मांग लिया सभी अफसरों की संपत्ति का ब्‍यौरा

Yogi Adityanath, योगी आदित्‍यनाथ

उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ पहले दिन से ही फाॅर्म में नजर आ रहे हैं। उन्‍होंने भ्रष्‍टाचार के खिलाफ अभियान छेड़ दिया है। शुरुआत सरकार से की।

New Delhi Mar 20 : उत्‍तर प्रदेश में योगी आदित्‍यनाथ को अभी मुख्‍यमंत्री की कुर्सी संभाले हुए दो दिन भी पूरे नहीं हुए हैं उन्‍होंने ताबड़तोड़ फैसले लेने शुरु कर दिए हैं। रविवार को शपथ ग्रहण समारोह के बाद जब उन्‍होंने अपनी पहली प्रेस कांफ्रेंस की थी तब उन्‍होंने अपने सभी मंत्रियों से उनकी संपत्ति का ब्‍यौरा मांग लिया था। इसके बाद सोमवार को उन्‍होंने प्रदेश के सभी अफसरों ने उनकी संपत्ति का ब्‍यौरा मांग लिया है। योगी आदित्‍यनाथ ने साफ तौर पर अफसरों को कह दिया है कि वो अपनी चल-अचल संपत्ति के साथ साथ इनकम टैक्‍स की भी पूरी डिटेल 15 दिन के भीतर सरकार को सौंपे। योगी आदित्‍यनाथ के इस कदम को भ्रष्‍टाचार के खिलाफ सबसे बड़ा हथियार बताया जा रहा है।

इसके अलावा योगी ने प्रदेश के सभी अफसरों को भारतीय जनता पार्टी के संकल्‍प पत्र के सभी बिंदुओं के तहत कार्य योजना उपलब्‍ध कराने का निर्देश दिया है। इसके साथ ही उन्‍होंने प्रदेश के सभी अधिकारियों को स्‍वच्‍छता की भी शपथ दिलाई। कुल मिलाकर कहा जाए तो योगी आदित्‍यनाथ पूरे एक्‍शन में हैं। दरअसल, मुख्‍यमंत्री योगी सोमवार को VVIP गेस्ट हाउस में राज्य के सभी बड़े नौकरशाहों के साथ मीटिंग कर रहे थे। पहले उन्‍होंने राज्‍य के मुख्य सचिव राहुल भटनागर से मुलाकात की। इसके बाद वो अपने दफ्तर लोकभवन गए। यहां पर उन्‍होंने सभी विभागों के प्रधान सचिवों के साथ मीटिंग की। इसी मीटिंग में उन्‍होंने सभी अफसरों को निर्देश दिया कि सभी 15 दिन के भीतर अपनी प्रॉपर्टी का ब्‍यौरा सरकार को सौंपे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने प्रदेश के वरिष्‍ठ अफसरों के साथ की गई पहली बैठक में भारतीय जनता पार्टी के संकल्प पत्र के मुताबिक काम करने का भी निर्देश दिया। इस दौरान उन्होंने खुद प्रदेश के सभी अधिकारियों को स्वच्छता की शपथ दिलाई। इस बात की चर्चाएं जोरों पर चल रही हैं कि यूपी में जल्‍द ही बड़े पैमाने पर प्रशासनिक अफसरों के तबादले भी किए जाएंगे। लेकिन, याेगी के मूड को देखकर कहा जा सकता है कि फिलहाल वो काम कराने के मूड में हैं। कुछ दिन वो पहले इन अफसरों के कामकाज को देखेंगे इसके बाद ही कोई फैसला लिया जाएगा। मुख्‍यमंत्री ने यूपी के डीजीपी जावीद अहमद से भी मुलाकात की। जावीद अहमद के साथ हुई मुलाकात में उन्‍होंने प्रदेश की कानून व्‍यवस्‍था को लेकर चर्चा की।

योगी आदित्‍यनाथ ने प्रदेश के डीजीपी जावीद अहमद को निर्देश दिया है कि वो 15 दिन के भीतर प्रदेश की कानून व्‍यवस्‍था को दुरुस्‍त कर लें। इस मुलाकात में उन्‍होंने इलाहाबाद में BSP नेता की हत्या पर भी चिंता जताई। मुख्‍यमंत्री ने डीजीपी जावीद अहमद से प्रदेश में बेहतर कानून-व्यवस्था स्थापित करने का निर्देश भी दिया। योगी ने जावीद अहमद से कहा है कि वो सभी जिलों के एसएसपी से बात कर 15 दिन के भीतर व्‍यवस्‍था सुधारने के लिए ब्‍लू प्रिंट तैयार कर सरकार को सौंपे। जाहिर है जिस तेजी से योगी आदित्‍यनाथ प्रदेश में मुख्‍यमंत्री की कमान संभालने के साथ काम कर रहे हैं हर कोई हैरत में है। लोगों को योगी के भीतर मोदी की छवि भी दिखाई पड़ रही है। लोगों का कहना है कि योगी मोदी स्‍टाइल में काम कर रहे हैं।

आगे पढि़ए – योगी ने तोड़ दी पुरानी परंपरा !

Click To Comment
Daily Horoscope
ऑल्टो से ज्यादा बिकी मारुति की ये कार… देशभर में बनी सभी की पहली पसंद !

ऑल्टो से ज्यादा बिकी मारुति की ये कार… देशभर में बनी सभी की पहली पसंद !

क्या आप जानते हैं कि देश में सबसे ज्यादा बिकने वाली कार कौन सी है ? जाहिर है आपके दिमाग में मारुति ऑल्टो होगी, लेकिन इसकी जगह दूसरी कार है… New Delhi, May 22 : क्या आप जानते है कि देश में सबसे ज्यादा बिकने वाली वाली कार कौन सी है ? जाहिर है कि आपके दिमाग में ऑल्टो का ही ख्याल आएगा। लेकिन मारुति की ही एकज कार ऑल्टो से ज्यादा बिकी है। यानी कुल मिलाकर कहें तो ये…
कहीं आपके बच्चे में बहरापन तो नहीं?, भारत में 50 लाख बच्चे हैं इसके शिकार !

कहीं आपके बच्चे में बहरापन तो नहीं?, भारत में 50 लाख बच्चे हैं इसके शिकार !

बहरापन मुख्य रुप से दो प्रकार का होता है, जन्म के दौरान ध्वनि प्रदूषण और दूसरी समस्याओं की वजह से नस संबंधी बहरापन हो जाता है। New Delhi, Aug 22 : दुनिया का करीब पांच फीसदी आबादी को ठीक से सुनाई नहीं देता, जिनमें से 3.2 बच्चे भी शामिल है। अगर बात भारत की करें, तो भारतीय आबादी का करीब 6.3 फीसदी लोगों में ये समस्या मौजूद है, इस संख्या में करीब 50 लाख से ज्यादा बच्चे शामिल है। इंडियन मेडिकल…
J K Sethi

J K Sethi

J K Sethi | J K Sethi Ji is as an Indian Vedic Astrologer and learnt astrology from India's renowned institutions & worldwide famous Astrologer and conferred the title of "Jyotish Shiromani", "Jyotish Visharad" & "Jyotish Kovid" from various institutions of India, practicing Systems Approach to Vedic Astrology (Hindu system of Astrology) since last decade. Life member of Indian Council of Astrological Sciences (ICAS), Madras, Member of International Institute of Predictive Astrology (IIPA), Satva, Systems Institute of Hindu Astrology. He has been participating in many consultation clinics…